कमल को वोट देने की बात कहने वाली मुस्लिम छात्रा बिजनौर के एक कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रही है, बताया जाता है कि यह दो दिन पहले अपने घर पहुंची और अब्बा से बोली कि अब्बा जब अगली बार कोई चुनाव होगा तो मैं तो अपना वोट ‘कमल के फूल’ को दूँगी, बेटी के मुंह से यह सब सुनकर पहले तो अब्बा के चेहरे की हवाइयां उड़ गई, गुस्से से लाल-पीले होकर ये क्या बक रही है तू, और क्यों योगी को वोट देगी। देर तक वह न सिर्फ उसका मुंह देखता रहा बल्कि गुस्से से लाल-पीला होकर उससे कारण भी पूछने लगा. बेटी ने जो कारण बताया और कारण सुनकर यह बाप अपनी बेटी का समर्थन करने से खुद को रोक नहीं पाया’।